Coronavirus सुखद खबर :- आखिर मिल ही गया कोरोना वायरस का इलाज

1
156

विश्वभर में कोरोना वायरस से लोगों में खौफ फैला हुआ है इसी बीच केरल में इस वायरस से संक्रमित तीन लोगों का इलाज सामान्य बुखार में दी जाने वाली पेरासिटामॉल से किया गया।

विश्व भर में कोरोना वायरस का खौफ चल रहा है। भारत में भी इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है लेकिन केरल में इस वायरस से संक्रमित तीन लोगों का इलाज सामान्य बुखार में दी जाने वाली पेरासिटामॉल से किया गया। केरल राज्य के सरकारी चिकित्सकों ने कड़ी मेहनत एवं आम दवाओं के जरिए कोरोना वायरस के तीन मरीजों को पूरी तरह स्वस्थ किया।
इस वायरस से संक्रमित तीनों छात्र चीन देश के महान शहर से आए थे यह छात्र केरल के कासरगोड, त्रिशूल और अलाप्पूझा के निवास थे। इनका इलाज वहां के ही जिला चिकित्सालय में किया गया। जहां इस वायरस से ग्रसित लोगों के लिए विशेष वार्ड बनाए थे।
इन तीनों पॉजिटिव छात्रों में कोरोना वायरस के हल्के लक्षण दिखाई दिए थे इसलिए इनका इलाज सामान्य बुखार में दी जाने वाली पेरासिटामोल एवं अन्य सामान्य दवाएं शामिल थी।

Coronavirus सुखद खबर :- आखिर मिल ही गया कोरोना वायरस का इलाज
Perasitamoll tables use in coronavirus 


कोरोना वायरस से भारत में अब तक 28 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हो गई है। इनमें 15 विदेशी पर्यटक भी शामिल है। जिनमें से तीन लोगों को पूरी तरह स्वस्थ कर दिया गया। राजस्थान के जयपुर शहर में भी विदेशी मरीज में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। दुनिया के कई देशों में कोरोना वायरस का आतंक फैला हुआ है। कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें चीन में हुई है। यह वायरस अब तक 60 से अधिक देशों में फैल चुका है।
दुनिया भर के वैज्ञानिक इस पर रिसर्च कर रहे हैं लेकिन अब तक अच्छे परिणाम सामने नहीं आये हैं।
कोरोना वायरस के लिए वैक्सीन विकसित करने पर काम चल रहा है। चाहे अभी इस वायरस का संपूर्ण तरीके से इलाज नहीं ढूंढा जा सका हो लेकिन विश्व भर के मेडिकल वैज्ञानिक इस वायरस के बारे में बहुत कुछ जान चुके हैं।
इन वैज्ञानिकों का कहना है कि कोरोना वायरस निर्जीव सतह पर एक हफ्ते तक जिंदा रह सकता है और कॉपर तथा स्टील पर दो घंटे जीवित रहता है जबकि प्लास्टिक एवं कार्ड बोर्ड पर लंबे समय तक यह वायरस जीवित रह सकता है।
कोरोना वायरस इंसान के शरीर के बाद कुल 9 दिनों तक जीवित रह सकता है। इस वायरस के संक्रमण का सबसे अधिक खतरा संक्रमित व्यक्ति से सीधे संपर्क में आने पर ही है।
विश्व बैंक ने कोरोना वायरस से प्रभावित देशों के लिए फंड भी जारी किया है। विश्व बैंक वायरस से प्रभावित देशों को 12 बिलियन डॉलर का फंड देगा।
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस से बचने के लिए एल्कोहल से लगातार हाथ धोने की सलाह दी है ना कि इसे पीने की।

चीन में फैले कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में खौफ मे है, लोग काफी डरे हुए लेकिन आज हम आपको बता रहे कैसे कोरोना वायरस से बचा जा सकता है –
1. बाजार से लाए दे फल सब्जियों को अच्छी तरह से धोकर ही खाएं।
2. खाना अच्छी तरह से पका है और खाना बनाने वाले पानी को भी उबालकर काम मिले।
3. अंडे में मीट को कच्चा नहीं खाए इन्हें अच्छे से उबालकर और पका कर खाएं।
4. बार-बार नाक, मुहं और आंखों पर हाथ ना  लगाए अगर ऐसा करते हैं तो तुरंत अपने हाथ अच्छे से धोएं।
5. भारत से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें।
6. विदेशी वैज्ञानिकों का कहना है कि वायरस मोबाइल की स्क्रीन पर भी पाया जा सकता है इसलिए मोबाइल का उपयोग करने के तुरंत बाद अपने हाथ धोएं।
इन तीन तरीकों से आप और उन वायरस से बच सकते हैं।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here